योग की शिक्षा को भी विद्यालयों में लागू करने की पहल

  • 2015-05-07 10:00:49.0
  • उगता भारत ब्यूरो
योग की शिक्षा को भी विद्यालयों में लागू करने की पहल



[gallery ids="3685"]

राजस्थान के शिक्षा राज्यमंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी ने की

केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्राी से भेंट

शिक्षा क्षेत्र में हो रहे प्रयासो, नवाचारों के बारे में दी जानकारी


नई दिल्ली 07 मई, 2015। राजस्थान के शिक्षा राज्य मंत्राी प्रो. वासुदेव देवनानी ने नई दिल्ली में केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्राी श्रीमती स्मृति जुबिन ईरानी से मुलाकात कर उन्हें प्रदेश में हो रहे शैक्षिक विकास के नवाचारों, किए गए महत्वपूर्ण प्रयासों के बारे में अवगत कराया।

श्री देवनानी ने केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्राी को बताया कि राजस्थान में सरस्वती वंदना के साथ ही योग की शिक्षा को भी विद्यालयों में लागू करने की पहल की गई है। उन्होंने प्रदेश में स्कूली शिक्षा के पाठ्यक्रमों को बच्चों के व्यक्तित्व विकास से जोड़े जाने के लिए किए जा रहे प्रयासों के बारे मंे जानकारी देते हुए बताया कि महापुरूषों की प्रेरक जीवनियों को पाठ्यक्रम का हिस्सा बनाया जा रहा है।

प्रदेश की शिक्षा जरूरतों के अंतर्गत सर्व शिक्षा अभियान और माध्यमिक शिक्षा अभियान के तहत आवंटित बजट की बकाया राशि भी शीघ्र जारी करने का आग्रह किया। उन्होंने केन्द्रीय विश्वविद्यालय, राजस्थान में कुलपति लगाए जाने के साथ ही अजमेर स्थिति क्षेत्राीय केन्द्र की दशा और दिशा के सबंध में भी अवगत कराया। उन्होंने सिंधु पीठ के लिए राषि जारी करने के साथ ही शिक्षा से संबंधित विभिन्न अन्य मुद्दों पर राजस्थान को अतिरिक्त सहायता प्रदान करने के लिए भी आग्रह किया।

मुलाकात के अंतर्गत शिक्षा राज्य मंत्री श्री देवनानी ने देश में नई शिक्षा नीति पर भी चर्चा की। उन्होंने नई शिक्षा नीति के अंतर्गत संस्कृति के मूल्यों को समाविष्ट करते हुए बच्चों में नैतिकता बोध पैदा करने संबंधित पाठ्यक्रम लागू किए जाने के लिए भी सुझाव दिए। उन्होंने शिक्षा को संस्कारों से जोड़ते हुए राष्ट्रीय भावना से ओत-प्रोत शिक्षा के लिए भी श्रीमती स्मृति ईरानी को सुझाव दिए।