राजस्थान के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री की केन्द्रीय मंत्री से भेंट

  • 2015-04-22 05:17:20.0
  • उगता भारत ब्यूरो

arun chaturvedi and otherअनुसूचित जाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग की छात्रवृत्ति का

बकाया भुगतान शीघ्र करवाया जाए

नई दिल्ली, 21 अप्रैल, 2015। राजस्थान के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. अरूण चतुर्वेदी ने आज नई दिल्ली में केन्द्रीय सामाजिक न्याय मंत्री श्री थावरचंद गहलोत से शास्त्री भवन में भेंट कर प्रदेश के अनुसूचित जाति व अन्य पिछड़ा वर्ग की छात्रवृति के बकाया भुगतान की राशि शीघ्र जारी करवाने का आग्रह किया।

डॉ. चतुर्वेदी ने बताया कि वर्ष 2014-15 में अनुसूचित जाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग उत्तर मैटिक छात्रवृति योजनान्तर्गत भारत सरकार से 158.48 करोड़ रूपये की राशि प्राप्त होना शेष रही है। बजट के अभाव में राज्य सरकार की बकाया छात्रवृति के शीघ्र निस्तारण कार्यक्रम की गति में कुछ कमी आई है। डॉ. चतुर्वेदी ने प्रदेश में चल रही सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की योजनाओं की प्रगति से भी केन्द्रीय मंत्री को अवगत करवाया। साथ ही घुमन्तु जातियॉं, आर्थिक दृष्टि से पिछड़े वर्गो और विशिष्ट योग्यजन की कल्याण योजनाओं की प्रगति से भी अवगत करवाया।

केन्द्रीय सामाजिक न्याय मंत्री श्री गहलोत ने संबधित अधिकारियों को उक्त लंबित छात्रवृति के यथाशीघ्र भुगतान के संबंध में निर्देशित किया और डॉ. अरूण चतुर्वेदी को आश्वस्त किया कि वे प्रदेश के अनुसूचित जाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्र/छात्राओं  के हितों के ध्यान रखने के लिए प्रतिबद्ध हैं। उन्होंने विभाग द्वारा संचालित अन्य योजनाओं की जानकारी देते हुए प्रदेश के सामाजिक न्याय विभाग की विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन की सराहना की।

बैठक में केन्द्रीय समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों सहित केन्द्रीय पंचायती राज राज्यमंत्री एवं सांसद श्री निहाल चंद मेघवाल, लोकसभा में सत्ताधारी दल के मुख्य सचेतक एवं सांसद श्री अर्जुन राम मेघवाल एवं करौली के सांसद श्री मनोज राजोरिया भी उपस्थित थे।

 

चित्र में: राजस्थान के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ. अरूण चतुर्वेदी मंगलवार को नई दिल्ली के शास्त्री भवन में केन्द्रीय सामाजिक न्याय मंत्री श्री थावरचंद गहलोत से भेंट करते हुए। साथ में  केन्द्रीय पंचायती राज राज्यमंत्री एवं सांसद श्री निहाल चंद मेघवाल, लोकसभा में सत्ताधारी दल के मुख्य सचेतक एवं सांसद श्री अर्जुन राम मेघवाल एवं करौली के सांसद श्री मनोज राजोरिया भी मौजूद थे।