राजस्थान की मुख्यमंत्राी श्रीमती राजे टोक्यो पहुंची

  • 2015-04-06 03:35:51.0
  • उगता भारत ब्यूरो

जापान यात्रा में वरिष्ठ राजनेताओं, उद्यमियों एवं अन्य लोगों के साथ करेंगी मुलाकातvasundhra rajey jpg

नई दिल्ली, 05 अप्रेल, 2015। राजस्थान की मुख्यमंत्राी श्रीमती वसुन्धरा राजे जयपुर में आगामी नवम्बर में होने वाले रिसर्जेंट राजस्थान समिट -2015 के ग्लोबल रोड-शो का शुभारम्भ करने के लिए रविवार को जापान पहुंचीं। अपनी इस यात्रा में वे जापान के वरिष्ठ राजनेताओं और उद्यमियोें से मुलाकात करेंगी और उन्हें राजस्थान में निवेश के लिए आमंत्रित करेंगी।

मुख्यमंत्राी श्रीमती राजे का टोक्यो स्थित नरिता एयरपोर्ट पहुंचने पर जापान में भारत की राजदूत श्रीमती दीपा गोपालन वाधवा और जापान में भारतीय दूतावास के मिनिस्टर (आर्थिक) श्री अरविन्द सिंह एवं अन्य अधिकारियों ने स्वागत किया।

श्रीमती राजे के साथ वरिष्ठ अधिकारियों, प्रमुख औद्योगिक एवं व्यापारिक प्रतिनिधियों, भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) और जापान एक्सटर्नल ट्रेड ऑर्गेनाइजेशन (जेट्रो) के प्रतिनिधियों का एक शिष्टमंडल गया है। अपनी इस यात्रा में मुख्यमंत्राी करीब एक सप्ताह तक विभिन्न व्यापारिक बैठकों और सेमिनारों में व्यस्त रहेंगी। निवेश के लिए अनुकूलतम स्थान के रूप में राजस्थान की ब्रांडिंग के लिए वहां कई आयोजन रखे गए हैं।

मुख्यमंत्राी श्रीमती राजे शनिवार को सायं नई दिल्ली के इंदिरा गांधी अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से जापान यात्रा के लिए रवाना हुई। श्रीमती राजे के साथ राज्य के मुख्यसचिव श्री सी.एस. राजन सहित एक उच्चस्तरीय शिष्टमंडल भी जापान यात्रा पर गया है।

शिष्टमंडल में राज्य के अतिरिक्त मुख्यसचिव नगरीय विकास एवं आवासन श्री अशोक जैन, प्रमुख उद्योग सचिव श्रीमती वीनू गुप्ता, मुख्यमंत्राी सलाहकार परिषद् की सदस्य श्रीमती मीरा महर्षि, मुख्यमंत्राी के प्रमुख विशेषाधिकारी श्री अरिजीत बनर्जी सहित अन्य प्रतिनिधिगण भी शामिल है।

जापान रवाना होते समय श्रीमती राजे ने कहा कि इस वर्ष नवम्बर माह में 2015 को राजस्थान सरकार द्वारा जयपुर में आयोजित किए जाने वाले  ’रिसर्जेट राजस्थान पार्टनरशिप समिट’ से पहले हो रही इस यात्रा से उन्हे काफी उम्मीदें है। उन्होंने आशा व्यक्त की। कि यह यात्रा सफल होगी और प्रदेश में निवेश के नये अवसर पैदा होंगे।

इस मौके पर नई दिल्ली में राजस्थान सरकार की प्रमुख आवासीय आयुक्त डॉ. सविता आनंद एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण मौजूद थे।