राजस्थान का जोर आपसी संबंधों की मजबूती पर- वसुंधरा राजे

  • 2015-03-19 07:18:17.0
  • उगता भारत ब्यूरो
राजस्थान का जोर आपसी संबंधों की मजबूती पर- वसुंधरा राजे

यूरोपियन यूनियन के संसदीय प्रतिनिधिमण्डल की मुख्यमंत्री से भेंट


 नई दिल्ली, 18 मार्च, 2015। यूरोपियन यूनियन के संसदीय प्रतिनिधिमण्डल ने श्री ज्योफ्री वेन ऑर्डेन के नेतृत्व में बुधवार को यहां मुख्यमंत्री कार्यालय में राजस्थान की मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे से मुलाकात की। करीब एक घंटे चली मुलाकात के दौरान आपसी सहयोग के कई मुद्दों पर चर्चा की गई।


श्रीमती राजे ने प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों का प्रदेश में आगमन पर स्वागत किया। उन्होंने प्रतिनिधिमंडल में शामिल विभिन्न यूरोपीय देशों के सांसदों के साथ चर्चा के दौरान इस बात पर जोर दिया कि यूरोपियन यूनियन के सदस्य देशों एवं भारत के लोगों के बीच आपसी संबंधों को कैसे मजबूत बनाया जा सकता है। उन्होंने प्रतिनिधिमंडल को बताया कि राजस्थान के यू.के., फ्रांस एवं जर्मनी जैसे यूरोपीय देशों के साथ घनिष्ठ संबंध रहे हैं।


श्रीमती राजे ने कहा कि राजस्थान दुनिया के देशों के साथ संबंधों की मजबूती पर ध्यान दे रहा है। उन्होंने कहा कि राजस्थान बाल्कन रिपब्लिक एवं नीदरलैण्ड के साथ सांस्कृतिक एवं आर्थिक गतिविधियां बढ़ाने की ओर अग्रसर है। श्रीमती राजे ने नवम्बर माह में जयपुर में होने वाली रिसर्जेंट राजस्थान समिट के बारे में भी चर्चा की।


प्रतिनिधिमंडल में स्लोवेनिया के सांसद श्री पॉल चाकी, जर्मनी के सांसद श्री जैकब वॉन वाइजेकर, यू.के. की सांसद श्रीमती नीना गिल, नीदरलैण्ड की सांसद मिस् कोरा वेन, स्लोवेनिया के सांसद श्री अलोयज पीटरले, यूरोपियन यूनियन के डिप्टी एम्बेसेडर श्री चीजेर ऑनेस्टिनी, यूरोपियन यूनियन की राजनीतिक मामलों की प्रथम काउंसलर मिस् सिल्विया कॉस्टेन्टिनी एवं यूरोपियन यूनियन के स्टाफ के सदस्य शामिल थे।