सांसद श्री पी.पी. चौधरी ने बताया क्रान्तिकारी बजट

  • 2015-03-11 03:42:20.0
  • उगता भारत ब्यूरो
सांसद श्री पी.पी. चौधरी ने बताया क्रान्तिकारी बजट

                पाली सांसद श्री पी.पी. चौधरी प्रदेश की मुख्यमंत्राी श्रीमती वसुन्धरा राजे द्वारा राज्य का 2015-16 का सालाना बजट पेश करने पर बधाई देते हुए कहा कि यह बजट  प्रदेश की आर्थिक स्थिति मजबूत करने की दिशा में उठाया गया महत्वपूर्ण कदम है। इस बजट में मूलभूत विकास के लिए 10,000 कि.मी. से अधिक सड़कों के निर्माण तथा 600 नये गांवों को सड़को से जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है। मिसिंग लिंक सड़कों के लिए बजट में 900 करोड़ रु की धनराशि आवंटित की गई है। इस वर्ष के बजट में 864 ढाणियों में विद्युतीकरण के साथ-साथ हर परिवार को पक्की छत व हर नागरिक को चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने का भी लक्ष्य सरकार द्वारा निर्धारित किया गया है।


                श्री चौधरी ने कहा कि दूरदृृष्टि सोच रखने वाली प्रदेश की मुख्यमंत्राी श्रीमती वसुंधरा राजे ने प्रदेश में निवेश को बढ़ावा देने के उद््देश्य से ‘‘रिसर्जेन्ट राजस्थान’’ का आयोजन इसी वर्ष करना तय किया है, जिसमें राजस्थान में औद्यौगिक विकास के साथ-साथ रोजगार के नए अवसर भी पैदा हो सकेगें।


श्री चौधरी ने मुख्यमंत्राी श्रीमती राजे को पाली जिले में जेड.एल.डी. लगाने के प्रस्ताव को एतिहासिक कदम बताया है।


चित्तौड़गढ़ सांसद श्री सी.पी.जोशी मुख्यमंत्राी को विकासोन्नमुखी बजट पेश करने पर दी बधाई


                चितौड़गढ़ सांसद श्री सी.पी.जोशी ने राजस्थान की मुख्यमंत्राी श्रीमती वसुन्धरा राजे को राज्य का 2015-16 का प्रगतिशील बजट पेश करने पर बधाई दी है और कहा कि यह आम बजट प्रदेश के युवाओं, छात्रों व किसानों के हितों को ध्यान में रखते हुए तैयार किया है।


                श्री जोशी ने चितौड़गढ़ में भोपाल सागर से नरेला वाया सुरजपुरा सड़का का विस्तार कार्य हेतु 76.88 करोड़, राजकीय संग्रहालय के विकास के साथ-साथ सांकल खेड़ा, माला देवी, धादड़ा, सिरसी का नाका सिचांई परियोजना हेतु बजट आवंटन के साथ कई बांधों व नहरों के जीर्णोद्धार का कार्यक्रम भी प्रारम्भ करने का प्रस्ताव इस बजट में दिया गया है। चितौड़गढ़ में सार्वजनिक स्थानों पर एल.ई.डी. लाईट लगाए जाने की घोषणा किया जाना एक प्रशन्सनीय कदम है।


                उन्होंने कहा कि प्रतापगढ़ में किसानों के लिए बीजों के उत्पादन एव विपणन को बढ़ावा देने हेतु नया विस्तार केन्द्र खोलने और जनजातीय किसानों को संकर मक्का बीज के मिनी किट्स वितरित करने का भी प्रस्ताव इस बजट में रखा गया है। प्रतापगढ़ के जलाशयों का जीर्णोधार का कार्य प्रारम्भ करने की घोषणा की गई है, जो कि इस क्षेत्र के लिए अति महत्वपूर्ण है, इसके अतिरिक्त प्रतापगढ़ में अनुसूचित जनजाति की बालिकाओं के लिए एक नवीन बालिका खेल छात्रावास प्रारम्भ किये जाने की भी घोषणा की गई है।


                श्री जोशी ने इस बजट में आधारभूत विकास के लिए 10,000 कि.मी. से अधिक सड़कों के निर्माण तथा 600 नये गांवों को सड़को से जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है। मिसिंग लिंक सड़कों के लिए बजट में 900 करोड़ रु की धनराशि आवंटित की गई है। इस वर्ष के बजट में 864 ढाणियों में विद्युतीकरण के साथ-साथ हर परिवार को पक्की छत व हर नागरिक को चिकित्सा सुविधा मुहैया कराने का भी लक्ष्य सरकार द्वारा निर्धारित किया गया है।


                श्री जोशी ने कहा कि दूरदृृष्टि सोच रखने वाली प्रदेश की मुख्यमंत्राी ने प्रदेश में निवेश को बढ़ावा देने के उद््देश्य से ‘‘रीसर्जेन्ट राजस्थान’’ का आयोजन इसी वर्ष करना तय किया है, जिसमें राजस्थान में औद्यौगिक विकास के साथ-साथ रोजगार के नए अवसर भी पैदा हो सकेगें।


प्रदेश को विकास पथ पर ले जाने वाला बजट -श्री ओम बिरला


                कोटा के सांसद श्री ओम बिरला ने कहा है कि राजस्थान के आम बजट की सराहना करते हुए से प्रदेश के हर वर्ग के हितों से जुड़ा होने के साथ-साथ राज्य एवं नागरिकों को विकास की दिशा में ले जाने वाला बजट बताया है।


                श्री बिरला ने राज्य बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये कहा है कि बजट में विकास की धारा को अंतिम व वंचित व्यक्ति तक पहुॅचाने के लिये पुख्ता कार्य योजनाऐं है। नई घोषणाओं के साथ-साथ पुरानी घोषणाओं को पूर्ण करने की प्रतिबद्धता भी स्पष्ट नजर आती है। पेट्रोल डीजल केे टैक्स सहित करों मेें कमी कर मुख्यमंत्राी ने आमजन को बड़ी राहत दी है।


                बजट में मुख्यमंत्राी ने शिक्षा को अधिक गुणवत्तापूर्ण बनाने एवं उच्च शिक्षा का स्तर सुधारने के प्रावधान किए हैं। इससे प्रदेश में शिक्षा का ढॉचा मजबूत होगा। 12वीं कक्षा की छात्राओ को 75 प्रतिशत पर स्कूटी, विद्यालय जाने हेतु ट्रांसपोर्ट वाउचर, बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए क्रांतिकारी कदम हैं। वहीं ग्राम पंचायत स्तर पर स्कूलों को क्रमोन्नत करने की पहल, नये स्कूल खोलने की घोषणा तथा ई टीचिंग जैसे नवाचार बच्चांे के लिये लाभदायक सिद्ध होंगे।


                बजट मे कृषि उत्पादन बढ़ाने, ग्राम सेवा सहकारी समितियों को मजबूत करने, सिंचाई योजनाओं के लिये अतिरिक्त बजट, पंचायत स्तर पर किसान सेवा केन्द्रांे के खोलने की घोषणा कर किसानो के जीवन स्तर में बदलाव का प्रयास किया गया है। गॉवों में दो हजार किलोमीटर सी.सी सड़कें, ग्रामीण क्षेत्रो में शुद्ध जलापूर्ति हेतु दो हजार आर.ओ.प्लांट की योजना, पशुपालन उपकेन्द्रो के क्रमोन्नत एवं नये पशुपालन उपकेन्द्रो के खोलने की घोषणाऐं समृद्ध गांव उन्नत किसान बनाने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम है।


                प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करने के लिये चिकित्सा सेवाओं के बजट में वृद्धि, चिकित्सालयों में आधुनिक उपकरणो के लिये अतिरिक्त बजट, 150 बेड़ वाले चिकित्सालयों मे ब्लड़ बैंक खोलने, सरकारी क्षेत्रा में निजी सहभागिता के माध्यम से प्राथमिक एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र स्तर पर चिकित्सा सुविधाओं को मजबूत करते हुये सहज एवं सुलभ चिकित्सा सुविधाऐं उपलब्ध करवाने वाला कदम है। सुगम एवं सुरक्षित परिवहन, सौलर ऊर्जा एवं ऊर्जा क्षेत्रा में निवेश, डिजिटलाईजेशन, जेलों व थानों में सीसी टीवी कैमरे लगाकर पारदर्शिता लाना सरीखे कई ऐसे में महत्वपूर्ण कदम बजट में उठाए गये है जिससे प्रदेश के विकास में मील का पत्थर साबित होगें।


हाड़ौती के लिए खोला सौगातों का पिटारा


                श्री बिरला ने बताया कि मुख्यमंत्राी ने बजट में हाड़ौती के लिए भी सौगातों का पिटारा खोल दिया है। मुख्यमंत्राी ने कोटा स्टोन पर वैट की दर 5 प्रतिशत से घटाकर 2 प्रतिशत कर संकट में पड़े इस उद्योग में नवजीवन का संचार किया है। कोटा में चेक अनादरण व महिला अत्याचार संबंधी मामलों के लिए विशेष न्यायालय की स्थापना से इस तरह के प्रकरणों के निस्तारण को गति मिलेगी जिससे लोगों को राहत मिलेगी। कोटा में बीज परीक्षण प्रयोगशाला की स्थापना से किसानों को उन्नत किस्म के बीज मिलने की सुविधा मिलेगी तथा वे नकली बीज की समस्या से भी राहत पा सकेंगे। बिरला ने कहा कि नहरों व बांधों के जीर्णोद्धार के लिए बजट में किए गए प्रावधान खेती-किसानी के लिए लाभदायक सिद्ध होंगे। खनन क्षेत्रा में सड़कों के लिए 50 करोड़ रूपए का प्रावधान, ढाबादेह व मोडक के बीच रेल ओवरब्रिज का निर्माण के अलावा कोटा से गेंता माखीद पुलिया का निर्माण, चम्बल पर पुलिया का निर्माण की घोषणा से शहर व ग्रामीण क्षेत्रांे में परिवहन सुगम होगा। उन्होंने आशा व्यक्त की कि राज्य की मुख्यमंत्राी जी द्वारा प्रदेश का बजट में किये गये सभी प्रावधानो से हाडौती संभाग एवं प्रदेश को नई ऊॅचाईयॉ मिलेगी।


बजट से जनजाति क्षेत्रों का संर्वागीण विकास होगा:  सांसद श्री मानशंकर निनामा


                बांसवाड़ा-डूंगरपुर के सांसद श्री मानशंकर निनामा ने मुख्यमंत्राी श्रीमती वसुंधरा राजे द्वारा पेश किए गए बजट को जनजाति क्षेत्रा के विकास के साथ ही सर्वस्पर्शी एवं विकासोन्मुखी बजट बताया है।


                श्री निनामा ने बजट पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि इस बजट से राजस्थान की अर्थव्यवस्था को संजीवनी मिलेगी और समाज के हर वर्ग के उत्थान का मार्ग प्रशस्त होगा।


उन्होंने बजट में राज्य के जनजाति क्षेत्रों, युवाओं, किसानों, गांवों, गरीबों, महिलाओं, उद्यमियों आदि का विशेष रूप से ध्यान रखने के लिए मुख्यमंत्राी श्रीमती राजे का आभार व्यक्त किया।