मोदी को 14 साल तक जेल भेजने की धमकी देते रहे

  • 2015-03-04 11:10:44.0
  • उगता भारत ब्यूरो
मोदी को 14 साल तक जेल भेजने की धमकी देते रहे

नरेद्रर मोदी जी के भाषण की दस मुख्य बातें...


1. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जनता जानती है धमकियों की भाषा किसकी है, 14 साल तक मुझे जेल भेजने की धमकी देते रहे.


2. यूपीए ने एनडीए सरकार की योजनाओं के नाम बदले. अटल बिहारी वाजपेयी सरकार की अंत्योदय योजना को खाद्य सुरक्षा योजना के नाम से चलाया.




3. यूपीए ने अधिकारियों को अपमानित किया, राज्यपालों को बदला दिया गया. यहां तक कि रक्षा सचिव को भी हटाया गया.


4. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जम्मू कश्मीर में सरकार कॉमन मिनिमम प्रोग्राम के आधार पर चलेगी. कहीं कोई बोले, इस पर हर बार बयान देना जरुरी नहीं है. राज्य की जनता ने जम्मू कश्मीर पर दुनिया के भ्रम को दूर कर दिया है.


5. कालेधन के मसले पर प्रधानमंत्री ने कहा कि 2011 में एसआईटी न बनने से देश को नुकसान हुआ है. उस दरम्यान लोगों को बचाने की कोशिश हुई. एनडीए सरकार काले धन की पाई-पाई वापस लाने को प्रतिबद्ध है.


6. भूमिअधिग्रहण को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों के हित में बताया और कहा कि जो मुआवजा तय हुआ है, वही मिलेगा. इस पर किसी तरह का समझौता नहीं होगा. जमीन का उपयोग विकास के कामों में होगा.


7. अपनी सरकार की विदेश नीति पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि दुनिया से आंख मिलाकर देश के हितों को आगे बढ़ाएंगे. अफगानिस्तान से आतंकवादियों के कब्जे से फादर का वापस आना देश की विदेश नीति की बड़ी सफलता है.


8. कांग्रेस और वामपंथी पार्टियों पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट में कांग्रेस सरकार ने माना था कि मनरेगा का ऑडिट नहीं हुआ. 30 साल में बंगाल में उद्योग व्यवस्था चौपट हो गई है, भुखमरी से लोगों की मौत के सबसे ज्यादा मामले इसी राज्य से सामने आए हैं. प्रधानमंत्री के इस बयान पर सीपीआई(एम) के सीताराम येचुरी ने घोर आपत्ति जताई.


9. प्रधानमंत्री ने कहा कि 'मेक इन इंडिया' से रोजगार बढ़ेगा. पिछली सरकार की नीतियों के चलते चेन्नई में नोकिया फैक्ट्री बंद हो गई. हमारी सरकार इस मसले पर आगे काम कर रही है. विकास की आंच नॉर्थ ईस्ट तक भी पहुंचनी चाहिए. वहां, बीपीओ इंडस्ट्री क्यों नहीं हो सकती.


10. मोदी ने कहा कि 54 प्रतिशत लोग गांव में छोटा काम करते हैं. हम हर तबके के लिए काम कर रहे हैं. सिर्फ 19 करोड़ लोगों के पास एक्सिडेंट बीमा है, गोल्ड बॉन्ड की शुरुआत इस सरकार की नई पहल और मुद्रा योजना से गरीब नौजवान को मदद मिलेगी.!!


Video link - https://www.youtube.com/watch?v=nEnbaN7KusQ&feature=youtu.be