राजस्थान सोलर ऊर्जा का सबसे बड़ा हब बनेगा

  • 2015-02-16 02:53:39.0
  • उगता भारत ब्यूरो
राजस्थान सोलर ऊर्जा का सबसे बड़ा हब बनेगा

प्रधानमंत्राी ने किया अक्षय ऊर्जा के क्षेत्रा में उत्कृष्ट कार्य के लिए

राजस्थान को पुरस्कृत


नई दिल्ली, 15 फरवरी, 2015। प्रधानमंत्राी श्री नरेन्द्र मोदी ने रविवार को नई दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित तीन दिवसीय ’’पहले अक्षय ऊर्जा वैश्विक निवेशक सम्मेलन और प्रदर्शनी‘ में राजस्थान को अक्षय ऊर्जा के क्षेत्रा में उत्कृष्ट कार्य के लिए पुरस्कृत किया।

राजस्थान के ऊर्जा राज्यमंत्राी श्री पुष्पेन्द्र सिंह ने राज्य सरकार की ओर से यह पुरस्कार ग्रहण किया। पुरस्कार सम्मान में एक प्रशंसा पत्रा और स्मृति चिन्ह शामिल है।

नई एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (एम.एन.आर.ई.) द्वारा आयोजित इस सम्मेलन में केन्द्रीय ऊर्जा राज्यमंत्राी (स्वतंत्रा प्रभार) श्री पीयूष गोयल, केन्द्रीय उद्योग एवं वाणिज्य राज्यमंत्राी (स्वतंत्रा प्रभार) श्रीमती निर्मला सीतारमण और देश-विदेश से भारी संख्या में आये प्रतिनिधिगण मौजूद थे।

राजस्थान बनेगा सबसे बड़ा ऊर्जा हब

पुरस्कार ग्रहण करने के बाद ऊर्जा राज्यमंत्राी श्री पुष्पेन्द्र सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्राी श्रीमती वसुंधरा राजे के नेतृत्व में राज्य ऊर्जा के क्षेत्रा में सराहनीय प्रगति कर रहा है और आगामी मार्च माह के अंत तक प्रदेश में सौर ऊर्जा के क्षेत्रा में 1200 मेगावाट ऊर्जा क्षमता हासिल हो जायेगी और राजस्थान देश मंे पहले नम्बर पर आ जायेगा।

श्री सिंह ने बताया कि वर्तमान में राजस्थान में अक्षय ऊर्जा के क्षेत्रा में 4000 मेगावाट बिजली क्षमता अर्जित है जिसमें 865 मेगावाट सौर ऊर्जा, 3100 मेगावाट पवन ऊर्जा और 114 मेगावाट बायो ऊर्जा शामिल है।

उन्होंने बताया कि राज्य सरकार द्वारा नई ’सोलर-पॉलिसी‘ जारी करने के बाद प्रदेश में सोलर पार्कस की स्थापना के लिए अब तक 26 हजार मेगावाट के एम.ओ.यू. हो चुके है। इसी प्रकार पिछले तीन माह में विभिन्न सौर ऊर्जा परियोजनाओं के लिए भी 14 हजार मेगावाट के एम.ओ.यू. हुए है। उन्होंने बताया कि राज्य में सौर ऊर्जा के क्षेत्रा में निवेश के लिए रिलायंस, सन एडीशन, अडानी, आई.ई.एफ.एस. जैसी अग्रणी कम्पनियां आगे आ रही है।

सम्मेलन में राजस्थान अक्षय ऊर्जा निगम के प्रबंध निदेशक श्री बी.के. दोषी ने भी भाग लिया।

सोमवार को होगा प्रस्तुतीकरण

सम्मेलन में दूसरे दिन सोमवार को प्रातः नई दिल्ली के होटल अशोक में ऊर्जा राज्यमंत्राी श्री पुष्पेन्द्र सिंह देश-विदेश से आये प्रतिनिधियों से भेंट करेगें और अपरान्ह बाद संभागियों के समक्ष ’’राजस्थान में अक्षय ऊर्जा‘‘ विशेष कर सौर ऊर्जा पर एक प्रस्तुतीकरण भी होगा।