मानवाधिकार पर भारत का पक्ष रखेंगे पाली सांसद

  • 2015-01-29 06:15:59.0
  • उगता भारत ब्यूरो
मानवाधिकार पर भारत का पक्ष रखेंगे पाली सांसद

लंदन के हाउसेज ऑफ पार्लियामेंट में आयोज्य तीन दिवसीय सम्मेलन में


मानवाधिकार पर भारत का पक्ष रखेंगे पाली सांसद पी.पी. चौधरी



नई दिल्ली, 28 जनवरी, 2015। लंदन के हाउसेज ऑफ पार्लियामेंट में 4 फरवरी से 6 फरवरी, 2015 तक आयोजित होने वाले तीन दिवसीय मानवाधिकार सम्मेलन में पाली सांसद एवं ऑफीसेज ऑफ प्रोफिट संयुक्त संसदीय समिति के अध्यक्ष श्री पी. पी. चौधरी मानवाधिकार पर अपने उद््बोधन द्वारा भारत का पक्ष रखेंगे। इस सम्बन्ध में युनाईटेड किंगडम (यू.के.) ने विभिन्न देशों के 50 अन्तर्राष्ट्रीय सांसदों को अपने-अपने देश का मानवाधिकार पर पक्ष रखने के लिए आमंत्रित किया है।


                इस बहु-उद्देश्यीय सम्मेलन के दौरान लंदन के हाउसेज ऑफ पार्लियामेंट में दुनिया भर के जन प्रतिनिधि एवं विद्वान वक्ता मानवाधिकारों पर अपने-अपने देश का पक्ष रखेंगे। वर्ष 2015 को आधुनिक कॉमनवेल्थ चार्टर की 800 वी जयंती के रूप में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर मनाया जा रहा है इसके उपलक्ष्य में यह सम्मेलन आयोजित किया गया है, जिसका उद््ेश्य भिन्न-भिन्न देशों के सांसदों के बीच मानवाधिकार के मौलिक महत्व व इन अधिकारों के सन्दर्भ में 1215 से 2015 तक बने कानूनों पर विचार-विमर्श करना है।


                उल्लेखनीय है कि बीते दिनों पाली सांसद पी.पी. चौधरी को लोकसभा अध्यक्ष द्वारा लाभ के पदांे सम्बन्धी संयुक्त संसदीय समिति का अध्यक्ष बनाया गया था। समिति भारत सरकार के मंत्रालयों/राज्य सरकारों या अन्य संस्थानों से ‘‘लाभ के पदों’’ के सम्बन्ध में प्राप्त प्रश्नों की जांच करते हुए उपयुक्त मामलों में अपनी राय भेजती है। यह समिति अन्य मंत्रालयों/केन्द्र सरकार के विभागों द्वारा गठित समितियों के गठन व कार्यप्रणाली का निरिक्षण करती है। राज्य सरकारों द्वारा गठित समितियों के गठन व कार्यप्रणाली का निरिक्षण भी यह समिति करती है। लाभ के पदों से सम्बन्धित संयुक्त समिति अपने कार्यक्षेत्र के अन्तर्गत सभी केन्द्र सरकार के मंत्रालयों, राज्यों तथा केन्द्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों से उनके द्वारा गठित समितियों/आयोगों/बोर्डों आदि (तथा भविष्य में बनाए जाने वाले) का विवरण प्रस्तुत करने के लिए कहने में सक्षम है।


श्री चौधरी संसद में अपनी 100 फीसदी उपस्थिति के साथ 60 से अधिक बार चर्चा में सक्रिय भागीदारी निभा चुके है, जो कि 16वीं लोकसभा में देश के सभी सांसदों में से सबसे अधिकतम््् है। इसके अतिरिक्त श्री चौधरी ने 132 प्रश्न पूछे तथा 4 निजी विधेयक भी संसद में पेश करके संसद में नया किर्तिमान स्थापित किया है।


वरिष्ठ अधिवक्ता व सांसद पी. पी. चौधरी का इस सम्मेलन में भारत देश की ओर से पक्ष रखने हेतु चयन होने पर पूरे पाली लोक सभा क्षेत्र के आम-जन ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, लोक सभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, संसदीय कार्यमंत्री वैन्कैया नायडू के प्रति आभार जताया है।