नई दिल्ली में उच्च शिक्षा मंत्रियों का सम्मेलन

  • 2015-01-07 02:31:19.0
  • उगता भारत ब्यूरो
नई दिल्ली में उच्च शिक्षा मंत्रियों का सम्मेलन

राजस्थान के उच्च शिक्षा मंत्राी श्री कालीचरण सर्राफ ने किया


उच्च शिक्षा में ’’च्वाइस बेस क्रेडिट‘‘  और ’’क्रेडिट फ्रेम वर्क फोर स्कील्स‘‘ सिस्टम


अपनाए जाने के प्रस्ताव का स्वागत


नई दिल्ली, 06 जनवरी, 2015।


                राजस्थान के उच्च शिक्षा, तकनीकी शिक्षा, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्राी श्री कालीचरण सर्राफ ने उच्च शिक्षा में विषय चयन की स्वतंत्राता पर आधारित शिक्षा पद्धति और उसे कौशल विकास से जोड़ कर क्रेडिट फ्रेम वर्क पाठ्यक्रम का निर्माण करने की केन्द्र सरकार की प्रस्तावित परियोजना का समर्थन किया है।


                श्री सर्राफ मंगलवार को नई दिल्ली के विज्ञान भवन में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यू.जी.सी.)द्वारा केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्राी श्रीमती स्मृति जुबिन ईरानी की अध्यक्षता में आयोजित राज्यों के शिक्षा एवं उच्च शिक्षा मंत्रियों के सम्मेलन में भाग ले रहे थे। बैठक मेें केन्द्रीय मानव संसाधन विकास राज्यमंत्राी श्री राम शंकर कठेरिया, मानव संसाधन विकास मंत्रालय और यू.जी.सी. के वरिष्ठ अधिकारीगण भी मौजूद थे।


                श्री सर्राफ ने इस महत्वाकांक्षी योजना के लिए आधारभूत सुविधाओं का विकास और पर्याप्त बजट प्रावधान रखे जाने का सुझाव भी दिया।


                बैठक के बाद श्री सर्राफ ने बताया कि केन्द्र सरकार द्वारा प्रस्तावित इस परियोजना को सर्वप्रथम केन्द्रीय विश्वविद्यालयों  में लागू किया जायेगा। उन्होंने बताया कि राजस्थान में इस परियोजना को कार्यरूप देने के लिए तीन सदस्य कमेटी का गठन किया गया है जिसमें सरकार अनुदानित विश्वविद्यालय के उपकुलपति श्री एम.एल. कुमावत, शिक्षाविद् श्री के.एल. शर्मा एवं  सेवानिवृत्त संयुक्त सचिव श्री वेंकट रमानी को शामिल किया गया है।