दिल्ली के चुनावों मे बंगलादेशी घुसपैठियों का बढ़ता दखल

  • 2015-01-03 04:35:00.0
  • उगता भारत ब्यूरो
दिल्ली के चुनावों मे बंगलादेशी घुसपैठियों का बढ़ता दखल

यमुनापार की कई सीटों पर फैसला बंगलादेशीयों के हाथों में


    अखण्ड भारत मोर्चा के अध्यक्ष श्री संदीप आहूजा ने मुख्य चुनाव अधिकारी दिल्ली को पत्र लिखकर जानकारी दी कि यमुनापार मे कई सीटों पर बंगलादेशीयों की जनसंख्या इतनी हो चुकी है कि वे फैसलों को प्रभावित कर सकते है क्योंकि उनके नाम अवैध तरीके से मतदाता सूची मे डाले जा चुके है ओर उनके राशन कार्ड, आधार कार्ड , ड्राईविंग लाइसेंस, मतदाता पहचान पत्र बनाये जा चुके है। श्री आहूजा ने कहा कि इन बंगलादेशी घुसपैठियों के कारण कोंडली सीट जिसके गाजीपुर डेरीफार्म मे एक पुरी बस्ती (झुग्गी-झोपड़ी) सरकारी जमीन पर बसाई गई है। दुसरा सीमा पुरी के पास दिल्ली-यूपी बार्डर पर कई बस्तीयां बसी हुई है जिनके वोट यूपी मे भी है और दिल्ली मे भी। तीसरा मुस्तफाबाद मुस्लिम बहुल क्षेत्र जहां छुपना इन बंगलादेशीयों के लिए बहुत सरल है।


गाँधी नगर के शास्त्री पार्क मे शरणार्थी शिवरों मे इन्होने अपना अड्डा जमाया हुआ है। श्री आहूजा ने कहा कि इन कालोनीयों मे पुलिस की लम्बी प्रक्रिया के कारण कोई किरायेदारों की जाँच नही करवाता है इसलिए ये क्षेत्र इन बंगलादेशीयों की आसान पनाहगाह बने हुऐ है जोकि देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ है क्योकि आतंकवादी भी छुपने के लिए इन्ही बस्तीयों का प्रयोग करते हैं। 2013 के विधान सभा एवं संसद के चुनावों से पूर्व भी अखण्ड भारत मोर्चा ने दिल्ली पुलिस एवं दिल्ली चुनाव आयोग को कई बार सचेत किया था मगर प्रशासन का रवईया ढुलमुल रहा है। श्री आहूजा ने माँग की है कि इन बंगलादेशीयों के वोट काटने के लिए अलग से टीम बनाई जाये जोकि दिल्ली पुलिस के बंगलादेशी सेल के साथ मिल कर काम करें क्योकि अभी जनवरी प्रथम सप्ताह से मध्य जनवरी तक चुनाव अयोग वोट काटने व जोड़ने का अभियान चलायेगा।