हिन्दूराज

  • 2014-10-27 10:48:01.0
  • उगता भारत ब्यूरो
हिन्दूराज

कुत्तो ने सोंचा , जंगल के
राजा को दहला देंगे ,
गागर ने सोचा सागर को पीकर मन
बहला लेंगे !
.
गीदड़ो ने साजिश कि गजराज को आँख
दिखाने कि ,
अंगारो ने कोशिश कि सूरज को आग
लगाने
कि !
.
किन्तु ये क्या जाने , लोटे में यान
ना चलते है ,
चूहो कि आवाजाही से पहाड़
कभी ना हिलते
है !
.
देश द्रोहियो का सारा अरमान
धरा रह
जाएगा ,
कुछ भी कर लो , हिन्दूराज आएगा तो आएगा