थाईलैंड में गो सेवा .....

  • 2014-07-08 09:12:33.0
  • उगता भारत ब्यूरो

gau seva thyland

भारी बारिश के बाद भारी भीड़ इकठ्ठा हुई सनम लुआंग , रॉयल मैदान में । वैसे कुछ लोग राजा की एक झलक पाने के लिए उत्साहित थी पर अधिकाँश भीड़ मैदान के चारो ऒर मुख्या घटना को देखने के लिए खड़ी थी - शाही जुताई समारोह ( Royal Ploughing Ceremony ). यह समारोह अच्छी फसल सुनिश्चित करने के लिए किया जाता है। जुताई समारोह महात्मा बुद्ध से भी पहले , 2500 साल पहले से आयोजित किया जाता था। इस समारोह की तारीख ब्राह्मण ज्योतिषों द्वारा सुनिश्चित की जाती है। थाईलैंड अब भी कृषि प्रधान देश है, आधी से ज्यादा थाईलैंड की जनता कृषि पर ही निर्भर है।
जुताई समारोह किसानों का मनोबल बढ़ाने के लिए किया जाता है, और वर्ष भर की फसल उत्पादन की भविष्यसवाणी भी की जाती है। इस समारोह को रक ना क्वान कहा जाता है - मतलब पहली शुभ जुताई। हालांकि राजा और शाही परिवार मौजूद होते है पर समारोह (2013 ) के प्रमुख है दो सफ़ेद बैल - प्र को फाह और प्र को साईं। राजा की उम्र ज्यादा है इसलिए वो एक मुखिया बनाता है जो पूरे जुलूस के साथ खेत जोतता है। जुलूस का नेतृत्व ब्राह्मणों द्वारा किया जाता है। बैलों को सुन्दर कपड़ो औ गहनों से सजाया जाता है। ब्राह्मण खेत में पानी और बीज छिड़कता है। उसके बाद बैल खेत को तीन बार और जोतते है। उसके बाद बैल जो खाना पसंद करता है उसके हिसाब से ब्राह्मण साल की ऊपज की भविष्येवाणी करता है।