केजरीवाल ने की 10 लाख लीटर पानी रोज देने की पेशकश

  • 2016-04-13 01:50:36.0
  • अजय आर्य

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के लातूर जिले में पानी की जबरदस्त किल्लत को देखते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत लिखकर पानी देने की पेशकश की है। इसके अलावा, पानी संकट के लिए दिल्ली वालों से भी मदद की अपील की है।

गौरतलब है कि महाराष्ट्र के लातूर और मराठावाड़ा में भीषण जल संकट है, पानी की किल्लत का आलम यह है कि यहां पर लोगों को पिछले 10 से 12 दिनों से पानी नसीब नहीं हो रहा है।

अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत लिखकर सूखा राहत को लेकर किए जा रहे सरकार के प्रयासों की सराहना की है। खासतौर से लातूर में ट्रेन से जिस तरह पानी भेजा गया है, उसे केजरीवाल ने सराहा है।

साथ ही खत में केजरीवाल ने महाराष्ट्र को पानी मुहैया कराने के लिए दिल्ली की ओर से पेशकश भी की है। खत में पीएम को कहा है कि दिल्ली भी इस काम में सहयोग करना चाहती है, इसलिए मोदी अगर पानी भेजने का इंतजाम करवा दें तो दिल्ली पानी देने को तैयार है।

केजरीवाल ने खत में लिखा है, पूरे देश के लिए यह शर्म की बात होगी अगर 21 वीं सदी के भारत में किसी की पानी की वजह से मौत हो जाए। महाराष्ट्र के लातूर की इस संकट की घड़ी में पूरे देश का फर्ज बनता है वहां के लोगों की मदद की जाए। खत में आप सुप्रीमो ने लिखा है, दिल्ली के लोग अगले दो महीने के लिए 10 लाख लीटर पानी प्रतिदिन लातूर को देने के लिए तैयार हैं। अगर केंद्र सरकार इस पानी को लातूर भिजवाने का इंतजाम कर दे तो दिल्ली सरकार पानी तत्काल मुहैया करा देगी।

पीएम को संबोधित खत के अंत में केजरीवाल ने लिखा है, अगर आप ठीक समझें तो एक अपील देश के सभी मुख्यमंत्रियों से कर सकते हैं। मुझे उम्मीद है कि सभी राज्य इस नेक काम में जरूर मदद करेंगे। इससे पहले अरविंद केजरीवाल ने शहर के लोगों से अपील की है कि वे महाराष्ट्र के सूखा प्रभावित लातूर शहर के लिए पानी बचाएं। अब तक का सबसे भयंकर सूखा झेल रहे मराठवाड़ा क्षेत्र में करीब पांच लाख की आबादी वाला लातूर जिला इन दिनों पानी की भारी किल्लत से जूझ रहा है। सीएम केजरीवाल ने एक ट्वीट में कहा कि लातूर में गंभीर जल संकट है। हम सबको मदद करनी चाहिए। क्या दिल्लीवासी प्रतिदिन कुछ पानी बचाने और इसे लातूर के लोगों को भेजने के लिए तैयार हैं?
(देखें पत्र की कॉपी)

पत्र