10 सबसे लोकप्रिय कारें जिन्होंने बदल दी भारतीय कार की दुनिया

  • 2015-08-08 08:22:07.0
  • विकास राणा
10 सबसे लोकप्रिय कारें जिन्होंने बदल दी भारतीय कार की दुनिया

1.भारत में सबसे प्रतिष्ठित कार में सबसे पहले पहलेएंबेसडरका नाम आता है। 'Amby' भारतीय नेता और अधिकारियों पसंद की पहली पसंद। प्यार से इस कार को 'भारतीय सड़कों का राजा "कहा जाता था। हिंदुस्तान मोटर्स ने मई 2014 में इसके निर्माण को बंद कर दिया।इस कार ने भारत में 1980 के मध्य अपनी शुरुआत की थी।

2.मारुति मतलब कार, लाखों भारतीयों के लिए मारुति का मतलब यही था। मारु‌ति की सबसे लोकप्रिय कार मारुति 800 है। यह एक ऐसी कार है जिसने लाखों भारतीयों को कार ड्राइविंग सीखाई है। भारतीय में सबसे ज्यादार बिकने वाली कार का खिताब मारुति 800 के नाम है।इस कार को सन 1983 में लॉन्च किया गया था।

3. हुंडई भारत की दूसरी सबसे बड़ी वाहन निर्यातक है, इसलिए इस सूची में इसको शामिल करना जरूरी है। हुंडई भारतीय बाजार में सैंट्रो के साथ 'हुंडई इंडिया' के रूप में प्रवेश किया है। कम कीमत में कार का सपना पूरा करने वाली यह कार भारत में दूसरी सबसे ज्यादा बिकने वाली कार है।

4. टाटा दुनिया की 17वीं सबसे बड़ी मोटर वाहन विनिर्माण कंपनी है, यह चौथी सबसे बड़ी ट्रक निर्माता और दूसरी सबसे बड़ी बस निर्माता कंपनी है। टाटा इंडिका, भारत में सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों में से एक है। कंपनी ने टाटा इंडिका को कई वेरिएंट के साथ लॉन्च किया है।

5. 10 के बजट में सेडान कार में भारतीयों के लिए पहली पसंद मारुति सुजुकी की स्विफ्ट डिजायर है। देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया की कॉम्पै क्टद सेडान कार स्विफ्ट डिजायर ने भारतीय बाजार में जुलाई, 2015 तक की बिक्री में 10 लाख का आंकड़ा पार कर दिया है। मारुति स्विफ्ट डिजायर को साल 2008 में पहली बार लॉन्चे किया गया था।

6. जनरल ड्वाइट आइजनहावर, यूरोप के मित्र देशों के सुप्रीम कमांडर का कहना है कि जीप, डकोटा हवाई जहाज और लैंडिंग क्राफ्ट ये तीन अहम उपकरण थे युद्ध जीत लिया।" महिंद्रा जनरल के साथ सहमति व्यक्त की है और भारत में विलीज जीप के लाइसेंस के तहत कारों का निर्माण करने के लिए एक लाइसेंस हासिल किया। कई दशकों से 4X4 महिंद्रा थार प्रिय कारों में से एक है। इस ऑफ-रोडर कार को देश भर में खासा पसंद किया जाता है।

7. क्वालिस सबसे भरोसेमंद MPV (मल्टी पर्पज व्हीकल) में से एक है। साथ ही किफातयी कार भी। यह भारत में टोयोटा की एंट्री कार थी। क्वालिस ने अपनी बनावट और फीचर्स के लिए जरिए टैक्सी और बड़े ऑपरेटरों का दिल जाता। इस कार ने भारतीयो को टाटा सूमो का नया विकल्प दिया।

8. जब भारत ने 21वीं सदी में कदम रखा है, तब तक कार कंपनियों ने आम जनता की जरूरतों के हिसाब से एडवांस कार उतारनी शुरू की दी। महिंद्रा बंगलूर स्थित रेवा इलेक्ट्रिक कार कंपनी के साथ मिलकर रेवाआई कार लॉन्च की। यह कार 26 देशों में 4000 से ज्यादा वर्जन में उपलब्धर है। इस कार को मध्य मार्च 2011 में दुनिया भर उतारा गया था।

9. टाटा ने 2005 में बेहद कम कीमत वाले ट्रक टाटा ऐस की कामयाबी के बाद बेहद सस्ती कार लॉन्च करने का फैसला किया। कार की कीमत को कम करने के लिए कंपनी ने कम से कम स्टीम का इस्तेमाल किया और गैरजरूरी फीचर्स को कार से हटाकर नैनो को उतारा। यह भारत ही नहीं अंतरराष्ट्रीय बाजार में भी लोकप्रिय कार है।

10. महिंद्रा ने टाटा सफारी के मुकाबले अपनी एसयूवी लॉन्च करने का फैसला किया। कंपनी ने महिंद्रा स्कॉर्पियो को उतारा जिसने बहुत तेजी से लोकप्रियता हासिल की। देखते ही देखते महिंद्रा स्कॉर्पियो अपने सेगमेंट में सबसे ज्यादा बिकने वाली कार बन गई। यह कार कई अवॉर्ड अपने नाम कर चुकी है।