चिल्ड्रन्स एकेडमी के खिलाफ फूटा लोगों का गुस्सा

प्रमुख समाचार/संपादकीय
दादरी। चिल्डे्रन्स एकेडमी एक ऐसा नाम है जिसे पिछले काफी सालों से प्राथमिक शिक्षा के क्षेत्र में बड़े सम्मान के साथ लिया जाता है। इस संस्था पर पिछले कुछ दिनों से अभिभावकों द्वारा कई तरह के आरोप लगाये गये हैं। जिनमें प्रमुख समस्या पिछले वर्ष की तुलना में विद्यालय के वार्षिक शुल्क को दुगुना करना है। जिसमें इस महंगाई में लोगों के पसीने छुटा दिये हैं। इसके अलावा भी दर्जनों शिकायतें लोगों की प्रबंधन तंत्र की थीं अभिभावकों की तैयारियों का आंकलन इस बात से लगाया जा सकता है कि उनकी तरफ से एक पंफलेट उपरोक्त व अन्य समस्याओं को लेकर छपवाया गया और उसे अभिभावकों के पास पहुंचाया गया जिसके आधार पर ये लोग इन समस्याओं के समाधान के लिए चिल्डे्रन्स एकेडमी जीटी रोड दादरी के गेट पर भारी संख्या में जुटे। जिनमें महिलाओं ने भी बढ़ चढक़र हिस्सा लिया। लोगों के इस आंदोलन की टोह एकेडमी के संचालकों को पहले से ही थी। इसलिए उन्होंने तुरंत समस्त अभिभावकों को ससम्मान अंदर वार्ता के लिए बुला लिया। तथा उनकी समस्त समस्याओं को ध्यानपूर्वक सुना। अपनी समस्या रखते हुए अभिभावक योगेश वर्मा ने  बताया कि विद्यालय में स्वच्छ जल की कोई व्यवस्था नहीं है। जो पानी बच्चों को पीने के लिए दिया जाता है। उसमें अक्सर कीड़े निकलते हैं। जिसको मैंने खुद आकर विद्यालय में चैक कराया है। इसी प्रकार जीटी रोड पर सांवरिया कंप्यूटर के नाम से अपना निजी व्यवसाय करने वाले दीपक बंसल ने विद्यालय के गिरते शिक्षा स्तर पर अपनी नाराजगी दर्शायी और कहा कि हम केवल नगर में सभी स्कूलों से महंगी फीस इसलिए देते हैं ताकि बच्चे को उत्तम शिक्षा मिल सके। जिसमें लगातार गिरावट आ रही है। वहीं बालाजी इंकलेव निवासी राजेश शर्मा ने रोष प्रकट करते हुए कहा कि इस महंगाई में जिस प्रकार प्रबंधन तंत्र ने वार्षिक शुल्क दोगुना किया है, उससे मध्यम वर्गीय परिवारों की कमर टूट गयी है। बालाजी इंक्लेव से ही आये तथा इस संगठन में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले अभिभावक पंकज सिंह ने कहा कि पिछले काफी दिनों से हम विद्यालय की गैर जिम्मेदाराना हरकतों को देखते आ रहे हैं। लेकिन अब बहुत हो चुका है, अगर हमारी समस्याओं का जल्द समाधान नहीं हुआ तो हम लोग एकजुट होकर आंदोलन के लिए मजबूर होंगे। विद्यालय में कई अभिभावकों ने विद्यालय में कार्यरत व्यवस्थापक देवेन्द्र सिंह पर भी गंभीर आरोप लगाये और कहा कि यह व्यक्ति हमारी समस्याओं को मालिकों तक नहीं पहुंचने देता। 

उपरोक्त सभी समस्याओं को विद्यालय प्रबंधकों ने बड़ी गंभीरता से सुना तथा आगामी एक दो सप्ताह में में इनके समाधान का आश्वासन अभिभावकों को दिया है। अब वक्त ही बताएगा कि इस महंगाई में अभिभावकों का क्या समाधान होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *