ग्रेटर फरीदाबाद में विकास की गति तेज

प्रमुख समाचार/संपादकीय

फरीदाबाद। नहर पार ग्रेटर फरीदाबाद में विकास का पहिया एक बार फिर तेजी से घूमने लगा है। क्षेत्र में सड़कों का जाल बिछना शुरू हो गया है। प्रशासनिक स्तर पर लगभग सभी अड़चनें दूर कर लिए जाने के बाद निवेशकों का रुझान बढ़ा है। आने वाले समय में ग्रेटर फरीदाबाद-नोएडा-दिल्ली एक दूसरे के बेहद नजदीक होंगे। ग्रेटर फरीदाबाद में मौजूदा समय में करीब एक हजार परिवार आकर बस चुके हैं। ग्रेटर फरीदाबाद में प्रशासन ने सड़कें बनाना शुरू कर दिया है। पूरे क्षेत्र में करीब 52 किमी सड़क बननी हैं, जिसमें से 29 किमी पर काम शुरू हो गया है या फिर होने वाला है। कुछ एक स्थानों पर कोर्ट केस या किसानों के साथ मुआवजे को लेकर प्रशासन के बीच पंगा चल रहा है। मगर उम्मीद है कि वह भी जल्द ही सुलझ जाएगा। दिल्ली व नोएडा के साथ बेहतर कनेक्टिविटी के लिए भी प्रयास चल रहे हैं। बाइपास रोड से नहर के साथ गुजर रहा रोड, जोकि सीधा कालिंदी कुंज, नोएडा-दिल्ली बॉर्डर पर जाकर निकलता है, उसे 45 मीटर चौड़ा किया जाना है। साथ ही ग्रेटर फरीदाबाद को नोएडा से जोडऩे के लिए एक्सप्रेस वे भी बनाया जा रहा है। इस पर जल्द काम शुरू हो जाएगा। ग्रेटर फरीदाबाद को बाइपास रोड से जोडऩे के लिए आगरा नहर पर चार पुल बनाए जाने हैं। इनमें एक बीपीटीपी पुल बन चुका है। इसके अलावा सेक्टर-75, आइएमटी व सेक्टर-28 के पास तीन और पुल बनाए जाएंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *