केन्द्र सरकार ने लोगों को निराश किया-मोदी

प्रमुख समाचार/संपादकीय

गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने संप्रग पर अपना हमला तेज करते हुए रविवार को कहा कि घोटालों, भ्रष्टाचार और बढ़ती कीमतों के परिणामस्वरूप उसने लोगों को निराश किया है। मोदी ने इसका अहसास नहीं होने के लिए संप्रग पर ताना कसा कि ‘कांग्रेस का जहाज डूब रहा है । मोदी ने साथ ही इस बात का विश्वास जताया कि भाजपा सत्ता बरकरार रखते हुए गुजरात में इस वर्ष के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव में विजयी होकर उभरेगी।भाजपा कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक के समापन सत्र में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मोदी की यह टिप्पणी इसके बावजूद आई है कि बैठक स्थल के आसपास उनके कट्टर विरोधी संजय जोशी के समर्थन में पोस्टर लगाए गए हैं, जिसमें अप्रत्यक्ष रूप से मोदी पर निशाना साधा गया है। पोस्टर युद्ध जारी रहने के बीच कुछ असंतुष्ट कार्यकर्ताओं ने बैठक स्थल से करीब 200 मीटर दूर जोशी का मुखौटा पहनकर और हाथों में तख्तियां लेकर प्रदर्शन किया। पुलिस ने इस कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया।मोदी ने कहा कि कांग्रेस नीत संप्रग सरकार ने श्रृंखलाबद्ध घोटालों और भ्रष्टाचार और महंगाई को रोकने में विफल रहकर देश के लोगों को निराश किया है।उन्होंने साथ ही प्रधानमंत्री मनमोहनसिंह पर आरोप लगाया कि वे सात प्रतिशत जीडीपी हासिल करने का दावा करके देश के लोगों को गुमराह कर रहे हैं क्योंकि यह इस तिमाही में गिरकर पांच प्रतिशत पर आ गई है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में सरकार यह नहीं जानती कि ‘जहाज में छेद था। उन्होंने कहा कि ‘कांग्रेस का जहाज डूब रहा है क्योंकि उसने मानवशक्ति का गलत आकलन करने के साथ ही उसे क्षति पहुंचाई है। मोदी ने कहा कि कांग्रेस के बचने की कोई उम्मीद नहीं है।उन्होंने कहा कि ऐसी पार्टी देश को स्थायित्व कैसे दे सकती है, जो स्वयं ही जूझ रही है। उन्होंने कहा कि यदि आप महंगाई कम नहीं कर सकते तो उसे कम से कम उस स्तर तक तो ले आइए जहां पर हमारे अटलबिहारी वाजपेयी ने छोड़ा था। मोदी ने कहा कि गुजरात में विधानसभा चुनाव इस वर्ष के अंत तक होने की संभावना है और राज्य के लोगों को भाजपा की विकास की राजनीति और कांग्रेस की जाति आधारित राजनीति के बीच चुनाव करना है।उन्होंने कहा कि हमने 2002, 2007 में जीत दर्ज की और 2012 के विधानसभा चुनाव में स्थिति भाजपा के लिए वर्ष 2002 और 2007 से कहीं अधिक अनुकूल है क्योंकि देश के लोग केंद्र में कांग्रेस के शासन से निराश हो चुके हैं।मोदी ने कहा कि संप्रग सरकार के विफल होने के कुछ कारण हैं। जब जीडीपी कम हुई और महंगाई बढ़ी सरकार को इसकी चिंता नहीं थी और दूसरा भारतीय मुद्रा दिन-प्रतिदिन नीचे जा रही है। मोदी ने कहा कि डॉलर के मुकाबले हमारा भारतीय रुपया नीचे और नीचे जा रहा है और अंतरराष्ट्रीय बाजार में भारतीय साख नीचे जा रही है। उन्होंने कहा कि देश के लोग यह जानना चाहते हैं कि भारतीय रुपया कमजोर क्यों हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *